राम जानकी मंदिर में रामकथा का आयोजन

हैदरनगर:हैदरनगरकेरामजानकीमंदिरप्रांगणमेंलगातारचलरहेचैत्रनवमीकेउपलक्ष्यमेंरामकथामेंवृंदावनसेपधारीमहिलाकथावाचकजयामिश्रानेसंगीतमयधूनपरलोगोंकोझूमनेपरविवशकरदिया।कथाकेदौरानजयामिश्रानेकहाकिश्रीरामजीवकेवटप्रसंगसेमानवकोयहशिक्षामिलतीहैकिजोप्रेमहोताहै,वहांनेमनहींहोताहै।किसीप्रकारकाव्यवहारनहींहोता।प्रेममेंभरकरकेवटनेरामजीकेचरणधोलिये।जोकार्यब्रम्हाजीकेअथकप्रयाससेमिलावोकेवटकोअन्यासहीमिलगया।स्वयंरामजीनेकहदियाबेगिआतुजलप्यपखारु,होतविलंबुउतारहीपारु..अर्थातभक्तकेबंधनमेंबंधकेअपनेचरणोंमेंसेवादिये।केवटकोयेभक्तिकामार्गहोताहीऐसाहै।कथाकंअंतमेंकेवटप्रसंगकीमनमोहकझांकीनिकालकरउपस्थितश्रोताओंकेबीचआरतीवंदनाकरसंपन्नकराई।कथाकेदौरानकथावाचकजयामिश्राकेसंगीतमयधूनपरसंगतकररहेतबलावादकराकेषजी,पैडपरकृश्णाजी,आर्गनपरसंतोशजीकेसाथबालिकाप्रज्ञातिवारीउर्फशशिकुमारीनेकथामेंसहयोगदेकरचारचांदलगादिया।कार्यक्रमकोसंपन्नकरानेमेंमहावीरमंडलकेअध्यक्षपूर्वप्रखंडप्रमुखसंतोषकुमार¨सह,पंचायतसमितिसदस्यरामप्रवेशमेहता,महावीरमंडलकेनंदलालप्रसाद,भारद्वाजदास,कमिटीकेसचिवउदयप्रतापनाथशहीदेव,प्रशांतकुमार,आशीषमोदनवाल,अरुणगुप्ता,सोनू,मोनूकेअलावाश्रीरामजानकीमंदिरकेपुजारीजयप्रकाशपांडेयकापूर्णसहयोगमिलरहाहै।