रिजर्व बैंक गवर्नर ने बैंक प्रमुखों के साथ की समीक्षा बैठक

नयीदिल्ली,दोमई(भाषा)भारतीयरिजर्वबैंककेगवर्नरशक्तिकान्तदासनेशनिवारकोबैंकोंकेप्रमुखोंकेसाथबैठककी।इसबैठकमेंकोविड-19संकटकेबीचआर्थिकस्थितिऔरवित्तीयप्रणालीकेदबावकोकमकरनेकेलिएकेंद्रीयबैंकद्वाराउठाएगएकदमोंकेक्रियान्वयनकीसमीक्षाकीगई।यहबैठकदोसत्रोंमेंवीडियोकॉन्फ्रेंसिंगकेजरियेहुई।रिजर्वबैंकनेबैठककेबादजारीबयानमेंकहाकिइसमेंप्रमुखसार्वजनिकऔरनिजीक्षेत्रकेबैंकोंकेप्रबंधनिदेशकऔरमुख्यकार्यकारीअधिकारी(सीईओ)शामिलहुए।अपनेशुरुआतीसंबोधनमेंगवर्नरनेलॉकडाउनकेदौरानबैंकोंकेपरिचालनकोसामान्यऔरसामान्यसेसामान्यकेकरीबरखनेकेप्रयासोंकीसराहनाकी।बैठककेदौरानअन्यबातोंकेअलावामौजूदाआर्थिकस्थितिऔरवित्तीयक्षेत्रकीस्थिरतापरचर्चाकीगई।इसकेसाथहीबैठकमेंअर्थव्यवस्थाकेविभिन्नक्षेत्रोंकोऋणकेप्रवाह...मसलनगैरबैंकिंगवित्तीयकंपनियों(एनबीएफसी),सूक्ष्मवित्तसंस्थानों,आवासवित्तकंपनियों,म्यूचुअलफंडआदिकोनकदीकीस्थितिपरचर्चाहुई।साथहीबैठकमेंलॉकडाउनकेबादऋणकेप्रवाह..कार्यशीलपूंजीकेप्रावधानऔरसूक्ष्म,लघुएवंमझोलेउपक्रमों(एमएसएमई)कोऋणप्रदानकरनेपरविचार-विमर्शकियागया।रिजर्वबैंकनेकोविड-19कीवजहसेकर्जकीमासिककिस्त(ईएमआई)केभुगतानपरतीनमाहकी‘रोक’लगाईहै।बैठकमेंइसकीभीसमीक्षाकीगई।उच्चतमन्यायालयनेइसीसप्ताहरिजर्वबैंककोनिर्देशदियाहैकिवहयहसुनिश्चितकरेकिउसकेऋणकेभुगतानपरतीनमाहकीरोककेनिर्देशोंकाअक्षरक्ष:अनुपालनहो।बयानमेंकहागयाहैकिदुनियाभरकीअर्थव्यवस्थाओंमेंसुस्तीकेमद्देनजरबैंकोंकीविदेशोंमेंस्थितशाखाओंकीनिगरानीपरभीविचार-विमर्शहुआ।रिजर्वबैंकनेकर्जलेनेवालेग्राहकों,ऋणदाताओंऔरम्यूचुअलफंडोंसहितअन्यइकाइयोंपरदबावकमकरनेकेलिएकईकदमउठाएहैं।फरवरी,2020सेरिजर्वबैंकअर्थव्यवस्थामेंसकलघरेलूउत्पाद(जीडीपी)के3.2प्रतिशतकेबराबरनकदधनडालचुकाहै।रिजर्वबैंकनेनीतिगतदरोंमें0.75प्रतिशतकीकटौतीकरइसे11सालकेनिचलेस्तर4.4प्रतिशतपरलादियाहै।अबकेंद्रीयबैंकद्वाराबैंकोंपरभीकर्जपरब्याजकीदरकमकरनेकादबावबनायाजारहाहै।इसकेअलावारिजर्वबैंकनेरिवर्सरेपोदरकोभीघटाकर3.75प्रतिशतकरदियाहै।इससेबैंकअधिककर्जदेनेकेलिएप्रोत्साहितहोंगे।आशंकाजताईजारहीहैकिकोविड-19कीवजहसेआर्थिकगतिविधियांठपरहनेकेचलतेअप्रैल-जूनकीतिमाहीमेंआर्थिकवृद्धिदरमेंभारीगिरावटआएगी।